पौष्टिक आहार

54 views

ना हम सभी खाते हैं। खाते और पीते समय हम दूध, दलिया, फल और जूस का सेवन भी करते हैं। आजकल फास्ट फूड चलन में है। फास्ट फूड जितनी तेजी से बनता है, उतनी ही तेजी से यह शरीर को भी नुकसान पहुँचाता है। दूध, दलिया, फल और जूस को प्रारंभ से ही भोजन में शामिल करने के लिए कहा जाता है।

दूध—दूध एकमात्र ऐसा पौष्टिक आहार है, जो व्यक्ति बचपन से लेकर वृद्धावस्था तक प्रयोग करता है। दूध अपने आप में संपूर्ण आहार माना जाता है। इसमें पोषक तत्त्व प्रचुर मात्रा में होते हैं। यह हमारे शरीर को आवश्यक पोषण प्रदान कर उसे मजबूत बनाता है, बीमारियों से लड़ने के लिए तैयार करता है और शरीर का शारीरिक एवं मानसिक विकास करता है। दूध को ‘प्रकृति का कल्याण पेय’ कहा जाता है। इसमें कैल्सियम, पोटैशियम, प्रोटीन, फास्फोरस, राइबोफ्लेविन, नियासिन, विटामिन ए, डी और बी12 होते हैं। दूध स्मरण-शक्ति में वृद्धि भी करता है। दूध अत्यंत गुणकारी है। इसे आज से ही इसे अपने आहार में शामिल कर लीजिए।

दलिया—दलिया एक सुपाच्य पदार्थ है। इसे गेहूँ को दरदरा पीसकर बनाया जाता है। स्वास्थ्य के लिए दलिया बहुत लाभदायक है। इसे नाश्ते में अवश्य शामिल करना चाहिए। दलिया खाने से वजन कम होता है। यदि प्रतिदिन दलिए का सेवन किया जाए तो पूरा दिन शरीर में ऊर्जा बनी रहती है। शरीर में ऊर्जा के कारण मेटाबोलिज्म सिस्टम भी बढि़या रहता है। दलिया में भरपूर एंडी ऑक्सीडेंट होते हैं, जो शरीर से विषैले तत्त्वों को बाहर निकाल देते हैं और शरीर को स्वस्थ बनाते हैं। दलिया खाने से हीमोग्लोबिन बढ़ता है। इन्हें दूध, फल के साथ नमकीन या मीठा बनाया जा सकता है। इससे यह पोषक होने के साथ-साथ स्वादिष्ट भी लगता है।

फल—प्रतिदिन फल का सेवन करने से बीमारियाँ दूर रहती हैं और सेहत अच्छी होती है। यह कहावत तो आप सबने सुनी ही होगी कि ‘एक सेब रोज खाओ और डॉक्टर को दूर भगाओ।’ सभी फल गुणकारी होते हैं। सेब में जहाँ विटामिन ‘ए’ प्रचुर मात्रा में होता है, वहीं खट्टे फलों जैसे संतरा, आम आदि विटामिन सी से भरपूर होते हैं। बच्चों को मौसमी फलों का सेवन अवश्य करना चाहिए। इन दिनों आम, लीची, हरे बादाम, जामुन और तरबूज का सेवन करना चाहिए। इनका सेवन करने से गरमी नहीं सताती और शरीर को ठंडक मिलती है।

जूस—आप जिन फलों का सेवन करने से घबराते हैं, उन्हें जूस के रूप में ले सकते हैं। जूस बेहद स्वादिष्ट लगता है। आम, गन्ना, संतरा, अनार, मौसमी, घृतकुमारी, नीबू, आँवला जूस बाजार में सहजता से मिल जाते हैं। घृतकुमारी और आँवला जैसे जूस का सेवन तो अनेक बीमारियों से बचाता है। आप सभी अपनी पसंद के अनुसार जूस का सेवन कर सकते हैं और स्वयं को स्वस्थ रखकर सुखी व अच्छा जीवन जी सकते हैं।